How to apply for a loan under MUDRA YOJANA?



How to apply for a loan under MUDRA YOJANA? – मुद्रा योजना के अंतरगत LOAN के लिये apply केसे करे?

Step-1 Document preparation – कागजात तैयार करना1 identity proof – पैन कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंसे, वोटर id, आधार कार्ड, पासपोर्ट॰ 

2 residence proof – last लाइट बिल, फोन बिल, आधार कार्ड, प्रॉपर्टि पपेर्स, प्रॉपर्टि Tax पपेर्स॰ 

3 cast proof – GENRAL / SC / ST / OBC / Minority cast 

4 Proof of business / service (which you Appling loan for)- आवेदक के अपने उद्योग / सेवा की जानकारी जिस के लिये खुद applicant लोन लेना चाहते है (Explanation – ऐसे कागजात जो की आवेदक के उद्योग पर का मालिकाना हक़ साबित करे, उद्योग की जगह का लाइट बिल, उद्योग का परवाना / license etc…) 

5 applicant’s bank account statement (Last six month)- आवेदक के बैंक खाते का आखरी छ: महीने का ब्योरा 

(Note-Internet से download किया हुआ नहीं, proper bank पे जा कर या बैंक से certified कराया हुआ ब्योरा), 

6 proof of income (statement of balance sheet)- आखरी दो साल के income tax return papers (Note – आवेदक दो लाख या फिर उस से ज्यादा लोन लेना चाहते है तभी ज़रूरी), 

7 Passport size two color photographs of applicant / partners / directors – दो फोट्स आवेदन कर्ता / भागीदारों / डायरेक्टर्स के 

8 last year’s sales report of current business मौजूदा उद्योग की बिकरी (sales) का ब्योरा – आखरी साल का यानी के आवेदन देने की तारीख से पहेले का ब्योरा, 

9 project report – applicant जिस उद्योग / व्यापार / व्यवसाय के हेतु LOAN ले रहे है, उसमे कहाँ किस संसाधन की आवश्यकता है, लोन लेने से कितना अंदाजन (approx) मुनाफा होगा, और applicant कहाँ से सारे संसाधन (equipment) और सामाग्री (goods) खरीदना चाहेंगे, इन सब चीजों पर एक विस्तृत project तयार कर के documents के साथ submit करना होता है, 

10 Memorandum and articles of association of the company/Partnership Deed of Partners etc. – भारतीय कंपनी धारे के मुताबिक registered कंपनी के सारे भागीदारों की भागीदारी का agreement (Note –केवल कंपनी या साझेदारी फर्म के लिए), 

11 Statement of asset & liability – यह लोन आवेदक (applicant) और आवेदक कंपनी companies को बिना guaranty मिलता है, इस लिये individual applicant और company applicant को मिल्कियत और ज़िम्मेदारी का ब्योरा देना आवश्यक होता है, 

(Note – सिशु, किशोर, तरुण, इन अलग अलग categorized Loan के documents list की सटीक इन्फॉर्मेशन के लिये (वैबसाइट-http://www.mudra.org.in”) या फिर mail-help@mudra.org.app. पर संपर्क करे, normally ऊपर list मे mention किये documents मांगे जाते है)

Step-2 Application & documents & project bank मे submit करना

दूसरे चरण मे applicant को अपने नजदीकी बैंक पर जा कर सुनिश्चित करना होता है के क्या वह bank मुद्रा योजना कार्यक्रम से जुड़ा हुआ है या नहीं| और अगर है तो वहाँ अधिकारी से appointment ले कर अपने सारे documents यानी ऊपर लिस्ट मे बताये documents की एक file तयार कर के दिखानी होगी, 

अगर बैंक applicant के बताये हुए documents से संतुष्ट होता है, तो आगे की कार्यवाही शुरू कर देता है, यानी के आप के loan के forms भरवाना, आप के दिये प्रोजेक्ट को approval के लिये आगे भेजना, banking नियम के मुताबिक commitment agreement तैयार करना आदि| 

और LOAN पास होने पर banks आवेदक को disbursement amount का check दे देती है जो आवेदक के बैंक खाते मे जमा किया जाता है, ताकि आवेदक अपने उद्योग / व्यापार के लिये राशी खर्च कर सके, और अगर आवेदक ने अपने प्रोजेक्ट मे कोई बड़ी machinery या equipment की मांग की होगी, तो उसके लिये आवेदक को cash नहीं दिया जायेगा direct seller को भुगतान किया जायेगा, (Note- bank मे applicant को project submit करते समय चीज़ों (goods) और यंत्र (machinery) को कहाँ से खरीदना है उस company / factory / trading shop का quotation देना पड़ता है, और check भी उसी party के नाम पर issue होता है), 

और अगर applicant के documents और दर्शाया गया उद्योग / व्यापार project बैंक को सही नहीं लगता तो bank application नामंज़ूर भी करने का अधिकारी होता है, और project या documents मे कोई छोटी मोटी त्रुटि हो तो bank ही applicant को मार्गदर्शन दे कर उसे ठीक करवा कर LOAN की मंजूरी दे देता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *